समाचार

  • Prime Minister Narendra Modi will launch the financing facility of one lakh crore rupees under the Agriculture Infrastructure Fund today through video conferencing.

  • With a record single-day spike of 64,399 cases, India's COVID-19 tally has crossed 21 lakh, while the death toll climbed to 43,379 with 861 more fatalities.

  • In Sri Lanka, Mahinda Rajapaksa took oath as the Prime Minister for the fourth time this morning.

  • Commerce and Industry Minister Piyush Goyal has said that India can become a trusted partner in the global supply chain.

  • The India Meteorological Department has warned of heavy rain across the northwest region during the next two days.

  • Detailed examination is on, in the passenger flight crash that occured last evening in Kozhikode airport in Kerala, that claimed 18 lives as per official data.

  • Foreign Minister of Bangladesh Dr. A.K. Abdul Momen has said that Bangladesh's relations with India is rock-solid and historic while it has economic ties with China.

  • The Centre has directed State Governments to focus all efforts on reducing COVID-19 mortality.

  • Prime Minister Narendra Modi has said that Swachh Bharat Abhiyan has boosted the self-confidence and will-power of every countrymen and its impact is visible on the life of the poor of the country.

  • Uttar Pradesh Chief Minister Yogi Adityanath today inaugurated 400-bed dedicated Covid-19 hospital with state of the art facilities in sector 39 of Gautam Buddh Nagar, Noida.

  • At least 18 people, including two pilots died when an Air India Express aircraft from Dubai crashed after overshooting the runway in Kozhikode last night. 162 people have been injured.

  • Gujarat Government has announced the new industrial policy. Chief Minister Vijay Rupani announced the new Policy at a press conference in Gandhinagar yesterday.

  • राष्ट्रीय राजधानी दिल्ली के राजघाट में संशोधित नागरिकता कानून (Citizenship Amended Act) के पक्ष में गुरुवार को प्रदर्शन और सभा की गई। बांग्लादेश और अन्य देशों से आए हिंदू तथा दूसरे धर्मों के शरणार्थियों ने इस कानून के पक्ष में समर्थन किया। प्रदर्शन कर रही एक हिंदू शरणार्थी महिला, 'पाकिस्तान ने निकाला है, भारत ने संभाला है' लिखी हुई तख्ती लिए हुए थी। 

    नागरिकता संशोधन कानून पर देश के कुछ हिस्सों में जारी विरोध प्रदर्शन के बीच बीच केंद्र सरकार ने फिर दुहराया है कि संशोधित नागरिकता से किसी को डरने की जरुरत नहीं है और जो कुछ भी भ्रम फैलाया जा रहा है वो बेबिनुयाद है ।

    केंद्रीय मंत्री प्रकाश जावडेकर ने कहा कि एनआरसी नागरिकता रजिस्टर नहीं है और ये केवल आधार की तरह एक पहचान पत्र है । 
        
    उधर नए कानून के समर्थन में भी दिल्ली में रैली हुई । पाकिस्तान , बांग्लादेश और अफगानिस्तान के शरणार्थियों ने राजघाट में रैली कर मोदी सरकार का समर्थन किया। अफगानिस्तान के शरणार्थियों ने दिल्ली में बीजेपी अध्यक्ष जे पी नड्डा से मुलाकात की और नए कानून के लिए पीएम मोदी और अमित शाह का धन्यवाद किया । इस पर मौके पर नड्डा ने कहा कि फैसला देश हित में है और भविष्य में एनआरसी भी लागू होगा

    यूपी और उत्तराखंड के मुख्यंमत्री ने भी लोगों से शांति की अपील करते हुए कहा है कि संशोधित नागरिकता कानून नागरिकता देने का बिल है लेने का नहीं और विपक्षलोगों को गुमराह कर रहा है ।

    एक बात साफ है कि नए कानून पर लोगों में भ्रम फैला हुआ है और इस पर लोगों को जागरुक करने की जरुरत है ।

     

     

  • करीब महीने भर से ज्यादा वक्त से झारखंड में जारी सियासी घमासान अब अंतिम दौर में पहुंच गया है । पांच चरणों में हो रहे विधानसभा चुनाव के आखिरी चरण के तहत 6 जिलों के 16 विधानसभा क्षेत्रों में शुक्रवार को सुबह सात बजे से मतदान होगा ।  बोरियो, बरहेट, लिटीपारा, महेशपुर और शिकारीपारा सीटों पर मतदान सुबह सात बजे शुरू होगा और दोपहर तीन बजे समाप्त होगा, जबकि शेष अन्य सीटों पर मतदान सुबह सात बजे से पांच बजे तक होगा। 

    इस चरण में जिन जिलों में मतदान होना है  उनमें साहेबगंज , पाकुर, दुमका , जामताडा , देवघर और गोडडा शामिल हैं । इस चरण में 16  विधानसभा सीटों पर कुल 237 प्रत्याशी  चुनाव मैदान में हैं। इसमें 208  पुरुष और 29 महिला प्रत्याशी हैं। सबसे ज्यादा 26 उम्मीदवार जरमुंडी में है जबकि पोडैयाहाट में सबसे कम 8 उम्मीदवार हैं । इस चरण में  कुल 40 लाख 05 हजार 287  वोटर हैं जिनमें 20 लाख 49 हजार 921  पुरुष और   19 लाख 55 हजार 336 महिला मतदाता हैं ।  चुनाव के लिए कुल 5389 मतदान केंद्र बनाए गए हैं । 

    चुनावों के लिए सभी तैयारियां पूरी हो गयी हैं । मतदान कर्मियों को उनकी टीमों के साथ निर्वाचन क्षेत्रो में रवाना कर दिया गया है । 

    शांतिपूर्ण और भयमुक्त चुनाव के लिए चुनाव आयोग ने भी सुरक्षा के पुख्ता इंतेज़ाम किये हैं।  शांतिपूर्ण और निष्पक्ष मतदान  के लिए 40 हजार से ज्यादा सुरक्षा बल तैनात किए गए हैं । राज्य पुलिस के अलावा अर्द्ध सैनिक बलों की भी तैनाती की गई है। कुछ नक्सल प्रभावित सीटों पर अधिक चौकसी रखी जा रही हैं । 

    मतदान के अंतिम चरण में राज्य के दो मंत्रियों के साथ ही पूर्व मुख्यमंत्री और जेएमएम  के कार्यकारी अध्यक्ष हेमंत सोरेन की चुनावी किस्मत तय होगी। सोरेन दो सीटों से चुनाव लड़ रहे हैं। दुमका में बीजेपी  उम्मीदवार और महिला  बाल कल्याण मंत्री लुइस मरांडी उन्हें कड़ी टक्कर दे रही हैं जबकि बरहेट में बीजेपी के साइमन मल्टो से उनका मुकाबला  है।  राज्य के कृषि मंत्री और बीजेपी  नेता रणधीर सिंह, सारठ सीट से चुनाव लड़ रहे हैं।  पूर्व उप मुख्यमंत्री और जेएमएम के मौजूदा विधायक स्टीफन मरांडी महेशपुर से चुनाव लड़ रहे हैं। 

     झारखंड में पांच चरणों में कुल 81 सीटों के लिए चुनाव हो रहे हैं  ।  65 सीटों  पर चुनाव चार चरणों में संपन्न हो गया है, जो 30 नवंबर से 16 दिसंबर के बीच हुए। पांचों चरणों की मतगणना 23 दिसंबर को की जाएगी। 

     

  • ऑस्ट्रेलिया के न्यू साउथ वेल्स के जंगलों में लगी भीषण आग से उत्पन्न गर्मी को देखते हुए सात दिन के आपातकाल की घोषणा की गई है। न्यू साउथ वेल्स की प्रधानमंत्री ग्लेडिस बेरेजिकलियान ने कहा कि प्रतिकूल मौसम के कारण आपातकाल लगाया गया है। उन्होंने कहा कि अगले कुछ दिनों में तेज गर्म हवा चलने और तापमान बढ़ने को लेकर सबसे बड़ी चिन्ता है।

    आग लगने से छह सौ से ज्यादा घरों को नुकसान हुआ है। आग के कारण अगले कुछ दिनों तक तेज गर्मी का अनुमान जताया गया  है। न्यू साउथ वेल्स में पिछले महीने से अब तक दूसरी बार आपातकाल की घोषणा हुई है।

  • राजधानी दिल्ली में विरोध प्रदर्शन के मद्देनजर कुछ स्थानों पर धारा 144 लगाई गई है तो वहीं कुछ मेट्रो स्टेशनों को इसके चलते बंद रखा गया है। जामिया, जसोला विहार शाहीन बाग, मुनरीका स्टेशन, वसंत विहार और मंडी हाउस पर एंट्री-एग्जिट बंद कर दिया गया है। इसके अलावा लाल किला, जामा मस्जिद, चांदनी चौक और विश्व विद्यालय पर भी ट्रेन नहीं रुकेगी। साथ केंद्रीय सचिवालय, पटेल चौक, लोक कल्याण मार्ग, उद्योग भवन, आईटीओ, प्रगति मैदान और खान मार्केट भी बंद कर दिए गए हैं। दिल्ली पुलिस ने लोगों से शांति बनाए रखने और सहयोग करने की अपील की है और निर्धारित स्थानों पर ही विरोध प्रदर्शन करने को कहा है। 

    नागरिकता संशोधन कानून पर जारी विरोध प्रदर्शन के बीच कर्नाटक में तीन दिनों तक के लिए धारा 144 लगा दी गई है। गौरतलब है कि आज बेंगलुरु में बड़े विरोध-प्रदर्शन की तैयारी की गई थी। बैंगलुरु के नगर आयुक्त भाष्कर राव ने कहा कि शहर में शांति बनाए रखने के लिए किया गया है। इस बीच कर्नाटक के मुख्यमंत्री बी एस येदयुरप्पा ने लोगों  से शांति बनाए रखने की अपील की है।

    प्रदर्शनों के मद्देनज़र उत्तर प्रदेश पुलिस ने राज्य में धारा 144 लगा दी है। डीजीपी ओपी सिंह ने देर रात बताया कि आज प्रदेश में धारा 144 लागू रहेगी और किसी भी सभा के लिए कोई अनुमति नहीं दी गई है। उन्होंने अभिभावकों से अपील की है कि वे अपने बच्चों को विरोध प्रदर्शनों से दूर रखें।

  • बोलिविया के अटॉर्नी जनरल ने अंतरिम सरकार द्वारा देशद्रोह और आतंकवाद के लिए दोषी पाए गए देश के निर्वासित पूर्व राष्ट्रपति इवो मोरेल्स की गिरफ्तारी के आदेश दिए हैं। ला पाज में पुलिस ने 60 वर्षीय इवो मोरेल्स को हिरासत में लेने और उन्हें अटॉर्नी जनरल के कार्यालय ले जाने के आदेश दिए गए हैं। 20 अक्टूबर को चुनाव में हुई धांधली के बाद वे फिर से चुने गए। उनके विवादित चुनाव के बाद देश में व्यापक विरोध हुआ और वे पिछले महीने अर्जेटीना चले गए। उन्होंने गिरफ्तारी के आदेश को गैर कानूनी, अनुचित और  असंवैधानिक बताया है। इवो मोरेल्स ने दक्षिणी अमरीकी देश बोलिविया पर लगभग 14 वर्षों तक शासन करने के बाद पिछले महीने इस्तीफा दे दिया था। उन्होंने बोलिविया छोड़कर पहले मैक्सिको में और फिर अर्जेटीना में शरण ली।

  • पनामा की एक भीड़भाड़ वाली जेल में कैदियों के दो प्रतिद्वंद्वी गुटों के बीच हुई गोलीबारी में 14 कैदी मारे गये और लगभग एक दर्जन घायल हो गये। ला जोयिता जेल में हुई गोली-बारी में एके-47 स्वचालित राइफलों और अन्य आग्नेयास्त्रों का खुलकर प्रयोग हुआ। पनामा शहर के पूर्व में स्थित यह देश की सबसे बड़ी जेलों में से एक है। जेल निदेशक वाल्टर हर्नांडेज़ ने कहा कि इस घटना में 14 कैदी घायल हुए हैं। इनमें से एक की हालत गंभीर है।

  • अमेरिकी प्रतिनिधि सभा ने राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप के खिलाफ महाभियोग प्रस्ताव लाते हुए दोनों आर्टिकलों- शक्ति के दुरुपयोग और संसद के अवरोध- के पक्ष में मतदान किया। लगभग आठ घंटे तक चली बहस के बाद अमेरिकी इतिहास में राष्ट्रपति ट्रंप महाभियोग मामले में सीनेट का सामना करने वाले तीसरे राष्ट्रपति बने।

    प्रतिनिधि सभा में डेमोक्रेट सदस्यों ने पार्टी लाइन पर चलते हुए ट्रंप पर सत्ता के दुरुपयोग लगाने का आर्टिकल के पक्ष में मतदान किया। सीनेट में एक अगले साल की शुरुआत में ट्रंप के खिलाफ जांच शुरू होने की उम्मीद है, जिसमें सीनेटर ट्रंप को 45वें राष्ट्रपति के रुप में दोषमुक्त कर सकते हैं या दोषी ठहरा सकते हैं और उन्हें पद से हटा सकते हैं। 

  • वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण की अगुवाई में जीएसटी काउंसिल की 38वीं बैठक हुई। बैठक में कई महत्वपूर्ण फैसले लिए गय़े। GST काउंसिल ने लॉटरी पर देश भर में एक समान टैक्स लगाने का फैसला किया है।यानि के अब लॉटरी पर 28 फीसदी जीएसटी वसूला जाएगा, जो एक मार्च 2020 से लागू होगा। अभी राज्य की सीमा के अंदर बिकने वाले लॉटरी पर 12% और दूसरे राज्य में बिकने वाले लॉटरी पर 28 % जीएसटी लग रहा था। कारोबारियों को राहत देते हुए काउंसिल ने वित्त वर्ष 2017-18 के लिए GSTR-9 फाइल करने की तारीख 31 जनवरी 2020 तक बढ़ा दिया है।

    2017 से नवंबर 2019 तक जिन्होंने GSTR-1 फाइल नहीं किया है, उनको राहत देते हुए जीएसटी काउंसिल ने उन्हें विलंब शुल्क से छूट दे दी है। इसके साथ ही जो कारोबारी दो टैक्स अवधि तक GSTR-1 फाइल नहीं करेंगे, उनके लिए ई-वे बिल ब्लॉक कर दिया जाएगा। साथ ही पूर्वोत्तर के कुछ राज्यों के लिए नवंबर महीने का जीएसटी रिटर्न फाइल करने की अंतिम तिथि को बढ़ाया जाएगा। 

    इसके साथ ही लॉटरी पर एक समान टैक्स 1 मार्च, 2020 से लागू होगा, जिसके लिए काउंसिल को वोटिंग करनी पड़ी। वित्त मंत्री निर्मला सितारमन ने कहा कि हर संभव प्रयास के बाद में पूरे काउंसिल के सदस्यों ने लॉटरी पर 28 % टैक्स लगाने के मुद्दे पर वोटिंग करने का फैसला किया।

  • अमेरिका के वाशिंगटन में कल भारत-अमेरिका के बीच 2+2 की दूसरे दौर की वार्ता हुई , जिसमें आतंकवाद के खिलाफ लड़ने सहित सामरिक सुरक्षा संबंधी अनेक विषयों पर चर्चा की गयी। दोनों पक्षों ने औद्योगिक सुरक्षा के एक समझौते पर हस्‍ताक्षर किये, जिसमें रक्षा तकनीक के हस्‍तांतरण की अनुमति दी गयी है। बैठक में अमरीका के विदेश मंत्री माइक पोम्पियो और रक्षा मंत्री मार्कएस्‍पर ने भारत के विदेश मंत्री एस जयशंकर और रक्षामंत्री राजनाथ सिंह के साथ वार्ता की। द्विपक्षीय वार्ता के दौरान भारत-अमेरिका के बीच रक्षा सहयोग पर भी चर्चा हुई। 

    इस मौके पर विदेश मंत्री एस जयशंकर ने कहा कि आतंकवाद दोनों देशों के लिए चिंता का विषय है। और दोनों देश आतंकवाद के खिलाफ मिलकर लड़ने के लिए प्रतिबद्ध है साथ ही उन्होने कहा कि दोनों देशों के बीच द्विपक्षीय व्यापार काफी तेजी से बढ़ा है। रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह ने कहा कि दोनों देशों ने द्विपक्षीय और वैश्विक मुद्दों पर चर्चा की और दोनों देशों की बीच रक्षा क्षेत्र में सहयोग को और मजबूत बनाने पर सहमति बनी है। साथ ही उन्होने कहा कि पिछली 2+2 वार्ता के अच्छे नतीजे दिखने लगे हैं।

    अमेरिका के विदेश मंत्री माइक पोम्पियो ने आतंकवाद से निपटने के लिए दोनों देशों के मिलकर काम करने पर ज़ोर दिया।

  • महात्मा गांधी की 150 वीं जयंती मनाने के लिए गठित आयोजन समिति की आज अहम बैठक होगी जिसकी अध्यक्षता राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद करेंगे। समिति में राष्ट्रपति के अलावा उप राष्ट्रपति, प्रधानमंत्री, केंद्रीय मंत्री, पूर्व प्रधानमंत्रियों और राज्यों के मुख्यमंत्री समेत कुल 125 सदस्य हैं। भारत यात्रा पर आए पुर्तगाल के प्रधानमंत्री एन्‍तोनियो कोस्‍ता भी इस बार बैठक में शामिल होंगे। महात्मा गांधी की 150 वीं जयंती के उपलक्ष्य में देश के 150 प्रमुख विश्वविद्यालय 150 विदेशी विश्वविद्यालयों के साथ मिलकर गांधी जी पर सम्मेलनों का आयोजन करेंगे।

    राष्ट्रपिता महात्मा गांधी की 150वीं जयंती के मौके पर देश विदेश में तमाम कार्यक्रमों का आयोजन हो रहा है । अब तक आयोजित हुए प्रमुख कार्यक्रमों की बात करें तो,इसी साल गांधी जी की पुण्यतिथि के मौके पर 30 जनवरी को प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने दांडी में राष्ट्रीय नमक सत्याग्रह स्मारक का उद्घाटन किया। पिछले साल 2 अक्टूबर से लेकर इस साल 2 अक्टूबर तक देश के विभिन्न जेलों में बंद दो हजार से अधिक(2,037) कैदियों को रिहा किया गया।

    दिल्ली में इस साल 29 सितंबर से 2 अक्टूबर तक अंतरराष्ट्रीय स्वच्छता सम्मेलन का आयोजन किया गया जिसमें 70 देशों के प्रतिनिधियों ने हिस्सा लिया।  इसके अलावा दुनिया के 87 देशों में अब तक बापू की 179 प्रतिमाएं स्थापित की गई हैं और 31 देशों में गांधी कथा का आयोजन किया गया है। 76 देशों में गांधी जी पर स्मारक डाक टिकट जारी किए गए हैं।

    दुनिया भर के मशहूर गायकों ने 124 देशों के प्रमुख स्थलों पर गांधी जी के प्रिय भजन 'वैष्णव जन' की रिकॉर्डिंग की और इसे जारी किया गया। संस्कृति मंत्रालय और दूरदर्शन ने संयुक्त रूप से लोक वाद्य यंत्रों पर आधारित 'वैष्णव जन' वीडियो का निर्माण किया है। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने इस साल सितंबर में न्यूयॉर्क में भारतीय समुदाय की ओर से आयोजित एक कार्यक्रम के दौरान महात्मा गांधी से जुड़े विचारों को साझा किया।

    प्रधानमंत्री ने इस साल 24 सिंतबर को संयुक्त राष्ट्र मुख्यालय में 193 सोलर पैनल वाले गांधी सोलर पार्क का भी उद्घाटन किया। संयुक्त राष्ट्र ने इस साल 2 अक्टूबर को गांधी जी की 150वीं जयंती के मौके पर स्मारक डाक टिकट जारी किया। इस साल 19 अक्टूबर को प्रधानमंत्री ने बॉलीवुड कलाकारों द्वारा गांधी दर्शन पर बनाए गए वीडियो 'चेंज विदीन' को जारी किया।

    भारत सरकार ने इस साल गांधी जयंती के मौके पर डेढ़ सौ रुपये वाले स्मारक सिक्के को जारी किया। गांधी जी की 150वीं जयंती के मौके पर भविष्य में आयोजित होने वाले कार्यक्रमों की बात करें तो दिल्ली स्थित गांधी दर्शन, राजघाट और देश के 16 अन्य स्थानों पर डिजिटल इंटरैक्टिव प्रदर्शनी दिखाई जाएगी। गांधी जी के आदर्शों से जुड़ी विभिन्न थीम पर दुनिया भर के कलाकर पेंटिंग बनाएंगे और उनका एलबम तैयार किया जाएगा।

    63 और देशों में गांधी जी की मूर्तियां और प्रतिमाएं स्थापित की जाएंगी। देश के 150 प्रमुख विश्वविद्यालय 150 विदेशी विश्वविद्यालयों के साथ मिलकर गांधी जी पर सम्मेलनों का आयोजन करेंगे। इसके साथ ही दूरदर्शन गांधी दर्शन का प्रसारण करेगा, जो गांधी दर्शन अपनाने वाले लोगों के अनुभवों पर आधारित होगा।

  • साहित्य अकादमी ने बुधवार को 23 भाषाओं में अपने वार्षिक साहित्य अकादेमी पुरस्कार-2019 का ऐलान किया। हिंदी में नंदकिशोर आचार्य को उनकी कविता 'छीलते हुए अपने को' के लिए भी इस पुरस्कार के लिए चुना गया है। इनके अलावा उर्दू के लिए प्रो. शाफे किदवई और पंजाबी भाषा के लिए किरपाल कजाक समेत 23 भारतीय भाषाओं के रचनाकारों को यह प्रतिष्ठित पुरस्कार देने का ऐलान किया गया है।

    कांग्रेस सांसद और पूर्व केंद्रीय मंत्री शशि थरूर को उनकी अंग्रेजी में लिखी गई किताब 'An Era of Darkness' के लिए यह पुरस्कार मिला है। ब्रिटिश काल पर लिखी गई यह किताब 2016 में रिलीज हुई थी। गौरतलब है कि साहित्य अकादमी पुरस्कार देश का एक बड़ा साहित्यिक सम्मान है जो साहित्य अकादमी प्रतिवर्ष भारत की अपने द्वारा मान्यता प्राप्त प्रमुख भाषाओं में से प्रत्येक में प्रकाशित सबसे अच्छी साहित्यिक कृति और रचना को पुरस्कार प्रदान करती है। 

  • पुर्तगाल के प्रधानमंत्री एंटोनियो कोस्टा दो दिन के दौरे पर दिल्ली पहुंच गए हैं। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने प्रधानमंत्री कोस्टा से हैदराबाद हाउस में मुलाकात की। ये तीन साल के भीतर दोनों देशों के प्रधानमंत्रियों के बीच तीसरी आधिकारिक बैठक है। 6 अक्टूबर, 2019 को प्रधान मंत्री के रूप में फिर से चुने जाने के बाद कोस्टा की वर्तमान भारत यात्रा यूरोप के बाहर उनकी पहली द्विपक्षीय यात्रा है। इस दौरे से द्विपक्षीय संबंधों की समीक्षा करने और आपसी हित के क्षेत्रों में निकट सहयोग बढ़ाने में मदद मिलेगी। बाद में एंटोनियो कोस्टा  महात्मा गांधी की 150 वीं जयंती पर आयोजित समारोह की आयोजन समिति की दूसरी बैठक में भी भाग लेंगे। 

  • सुप्रीम कोर्ट ने संशोधित नागरिकता अधिनियम पर रोक लगाने से इंकार करते हुए केंद्र सरकार को नोटिस जारी किया है. नागरिकता संशोधन अधिनियम को चुनौती देने वाली दलीलों पर सुनवाई करते हुए मुख्य न्यायाधीश एसए बोबडे, न्यायमूर्ति बीआर गवई और न्यायमूर्ति सूर्यकांत की पीठ ने सभी 59 याचिकाओं पर सुनवाई के लिए अगले साल की 22 जनवरी की तारीख तय की है. पीठ ने इस बात पर सहमति जताई कि लोगों को नए कानून के बारे में जागरूक किया जाना चाहिए. केंद्र के वकील ने भी कोर्ट से कहा कि सरकार इस बारे में जरूरी कदम उठाएगी.

    इस बीच दिल्ली उच्च न्यायालय के एक न्यायाधीश ने जामिया मिल्लिया इस्लामिया विश्वविद्यालय और अलीगढ़ मुस्लिम विश्वविद्यालय के छात्रों और निवासियों को रिहा करने के लिए निर्देश देने की याचिका को मुख्य न्यायाधीश को हस्तांतरित कर दिया है. केंद्र ने अदालत को सूचित किया कि सुप्रीम कोर्ट ने मंगलवार को कहा था कि इस अधिनियम पर हिंसा से संबंधित मामलों की सुनवाई संबंधित उच्च न्यायालयों के मुख्य न्यायाधीशों द्वारा की जानी चाहिए. दिल्ली उच्च न्यायालय में दायर एक अन्य जनहित याचिका में जामिया मिलिया विश्वविद्यालय की घटना से निपटने के तरीकों और इस दौरान घायल हुए छात्रों को प्रदान की जा रही चिकित्सा सहायता की जांच के लिए एक तथ्य खोज समिति का गठन करने की मांग की गई है, जिस पर गुरुवार को सुनवाई होगी.

    इस बीच मंगलवार को सीलमपुर में हुई हिंसा के बाद दिल्ली में बुधवार का दिन शांतिपूर्ण रहा. इस मामले में दिल्ली पुलिस द्वारा 2 और लोगों को गिरफ्तारी के बाद अब तक कुल 8 लोग गिरफ्तार हो चुके हैं. इससे पहले घटना के दौरान सार्वजनिक संपत्ति को लूटने और नुकसान पहुंचाने के लिए सीलमपुर, जाफराबाद और दयालपुर पुलिस थानों में तीन प्राथमिकी दर्ज की गई थीं. पुलिसकर्मियों ने बुधवार सुबह सीलमपुर में गश्त की. दिल्ली के उत्तर पूर्व जिले के कुछ हिस्सों में धारा-144 लगा दी गई है. बुधवार को विरोध प्रदर्शनों की ड्रोन निगरानी भी की गई जिससे उपद्रवियों की पहचान करने में मदद मिली. सूत्रों के अनुसार, राष्ट्रीय राजधानी में गलत सूचनाओं को फैलाने के मामले की जांच के लिए पुलिस द्वारा कुछ सोशल मीडिया हैंडल का बारीकी से निरीक्षण किया जा रहा है. पुलिस अधिकारी शांति बनाए रखने के लिए विभिन्न कॉलोनियों की शांति समितियों के साथ भी बातचीत कर रहे हैं.

    छात्रों के विरोध प्रदर्शन पर केंद्र ने एक बार युवाओं को भरोसा दिया है कि इससे किसी का नुकसान नहीं होगा. साथ ही युवाओं से अपील की है कि वो किसी के द्वारा गुमराह नहीं हों.

    एक अन्य घटनाक्रम में बसपा नेताओं के एक प्रतिनिधिमंडल ने राष्ट्रपति कोविंद से मुलाकात की और उन्हें एक ज्ञापन सौंपकर कानून को रद्द करने का आग्रह किया.

    देश के पूर्वी हिस्से  पश्चिम बंगाल और असम में भी बुधवार को शांति रही और नए नागरिकता कानून को लेकर हिंसा की कोई ताजा घटना नहीं हुई. मेघालय की राजधानी शिलांग में 14 घंटे के लिए कर्फ्यू में ढील दी गई लेकिन मोबाइल इंटरनेट सेवाओं पर प्रतिबंध अभी भी जारी है.

    पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी ने कोलकाता में एक विरोध मार्च का नेतृत्व किया. राज्य में हिंसा प्रभावित इलाकों का दौरा करने गए 2 भाजपा सांसदों को रोक दिया गया और बाद में मालदा में हिरासत में ले लिया गया. राज्यपाल जगदीप धनखड़ ने राज्य के मुख्य सचिव और डीजीपी से मुलाकात की और स्थिति का जायजा लिया. उन्होंने कहा कि वह नए नागरिकता कानून पर हिंसक विरोध से प्रभावित क्षेत्रों का दौरा करना चाहते हैं.

    नए कानून पर लोगों के भ्रम को दूर किया जा रहा है और समय की जरूरत है कि लोग जिम्मेदारी से काम करें और सोशल मीडिया पर अफवाह या भड़काऊ सामग्री न फैलाएं.

  • GST काउंसिल ने लॉटरी पर देश भर में एक समान टैक्स लगाने का फैसला किया है. यानि के अब लॉटरी पर 28 फीसदी जीएसटी वसूला जाएगा, जो एक मार्च 2020 से लागू होगा.

    अभी राज्य की सीमा के अंदर बिकने वाले लॉटरी पर 12% और दूसरे राज्य में बिकने वाले लॉटरी पर 28% जीएसटी लग रहा था.

    कारोबारियों को राहत देते हुए काउंसिल ने वित्त वर्ष 2017-18 के लिए GSTR-9 फाइल करने की तारीख 31 जनवरी 2020 तक बढ़ा दिया है.

    2017 से नवंबर 2019 तक जिन्होंने GSTR-1 फाइल नहीं किया है, उनको राहत देते हुए जीएसटी काउंसिल ने उन्हें विलंब शुल्क से छूट दे दी है.

    इसके साथ ही जो कारोबारी दो टैक्स अवधि तक GSTR-1 फाइल नहीं करेंगे, उनके लिए ई-वे बिल ब्लॉक कर दिया जाएगा.

    साथ ही पूर्वोत्तर के कुछ राज्यों के लिए नवंबर महीने का जीएसटी रिटर्न फाइल करने की अंतिम तिथि को बढ़ाया जाएगा.

    लॉटरी पर एक समान टैक्स 1 मार्च, 2020 से लागू होगा, जिसके लिए काउंसिल को वोटिंग करनी पड़ी. वित्त मंत्री निर्मला सितारमण ने कहा कि हर संभव प्रयास के बाद में पूरे काउंसिल के सदस्यों ने लॉटरी पर 28% टैक्स लगाने के मुद्दे पर वोटिंग करने का फैसला किया.

  • करीब 11 साल से भी ज्यादा वक्त बीत जाने के बाद आखिरकार 2008 के जयपुर बम विस्फोट मामले में इंसाफ हो गया है . राजस्थान की एक विशेष अदालत ने जयपुर बम विस्फोट मामले में बुधवार को चार आरोपियों को दोषी ठहराया, जबकि एक आरोपी को दोषमुक्त करार दिया.

    मामले की सुनवाई कर रही विशेष अदालत के न्यायाधीश अजय कुमार शर्मा ने अपने फैसले में मोहम्मद सरवर आजमी, मोहम्मद सैफ, मोहमद सलमान और सैफुर्रहमान को दोषी ठहराया. इन सभी को भारतीय दंड संहिता की धारा 302, 307, 324, 326, 120-बी, 121-ए और 124-ए, 153-ए के तहत दोषी माना गया है.

    इसके अलावा विस्फोट पदार्थ अधिनियम की धारा तीन के तहत तथा विधि विरुद्ध क्रियाकलाप अधिनियम की धारा 13, 16, 1-ए और 18 के तहत भी उन्हें दोषी ठहराया है. अदालत ने आरोपी शाहबाज हुसैन को दोषमुक्त करार दिया, क्योंकि उनके खिलाफ आरोप साबित नहीं हो सके. शाहबाज पर इन धमाकों की जिम्मेदारी लेने वाला ईमेल भेजने का आरोप था.

    पहला धमाका चांदपोल हनुमान मंदिर और उसके बाद दूसरा सांगानेरी गेट हनुमान मंदिर पर हुआ था. इसके बाद बड़ी चौपड़, जौहरी बाजार, छोटी चौपड़ और तीन अन्य स्थानों पर धमाके हुए थे.

    बम धमाके के बाद राज्य सरकार की सिफारिश पर उच्च न्यायायल ने मामले की सुनवाई के लिए विशेष अदालत गठित की थी. मामले में अभियोजन पक्ष की ओर से 1,272 गवाह और बचाव पक्ष की ओर से 24 गवाह पेश किए गए.

    अदालत में अब दोषियों को सजा पर गुरुवार को बहस होगी और उसके बाद सजा सुनाई जाएगी.

     

  • कांग्रेस सांसद और पूर्व केंद्रीय मंत्री शशि थरूर को उनकी अंग्रेजी में लिखी गई किताब 'An Era of Darkness' के लिए यह पुरस्कार मिला है. ब्रिटिश काल पर लिखी गई यह किताब 2016 में रिलीज हुई थी. हिंदी में नंदकिशोर आचार्य को उनकी कविता 'छीलते हुए अपने को' के लिए यह पुरस्कार मिला है. इनके अलावा उर्दू के लिए प्रो. शाफे किदवई और पंजाबी भाषा के लिए किरपाल कजाक समेत 23 भारतीय भाषाओं के रचनाकारों को यह प्रतिष्ठित पुरस्कार देने का एलान किया गया है.

    गौरतलब है कि साहित्य अकादमी पुरस्कार देश का एक बड़ा साहित्यिक सम्मान है, जो साहित्य अकादमी प्रतिवर्ष भारत की अपने द्वारा मान्यता प्राप्त प्रमुख भाषाओं में से प्रत्येक में प्रकाशित सबसे अच्छी साहित्यिक कृति और रचना को पुरस्कार प्रदान करती है. पहली बार ये पुरस्कार सन 1955 में दिए गए थे.

  • वाइज़ैग में करो या मरो के मुक़ाबले में एक बार फिर टॉस ने विराट का साथ नहीं दिया, लेकिन इस बार भारतीय ओपनर्स ने अपने कप्तान को निराश नहीं होने दिया. केएल राहुल और रोहित शर्मा की जोड़ी ने धमाकेदार अंदाज़ में शुरुआत की. टीम ने 26वें ओवर में 150 रन पूरे कर लिए. हालांकि इस सब के बीच में वेस्टइंडीज़ ने कैच भी ड्रॉप किए. रोहित और राहुल के द्वारा कैरेबियाई गेंदबाज़ों को धोने का काम जारी रहा और जल्द ही इन दोनों बल्लेबाज़ों के बल्ले से शतक निकलकर सामने आए.

    रोहित ने 107 गेंदों पर अपना 28वां शतक लगाया. उधर केएल राहुल ने भी शतक पूरा किया लेकिन शतक लगाते ही उनका विकेट भी सामने आ गया. राहुल 102 पर आउट हुए. इस तरह पहले विकेट के लिए इस शानदार 227 रन की पार्टनरशिप का अंत हुआ, जिसे तोड़ा अल्ज़ारी जोसेफ ने. इसके बाद आए भारतीय कप्तान विराट कोहली एक बार फिर खराब शॉट सेलेक्शन का शिकार हुए और शून्य पर पोलार्ड की गेंद पर आउट हुए. लेकिन रोहित का बल्ला लगातार गरजता रहा. बहरहाल 159 के स्कोर पर रोहित की पारी का अंत हुआ.

    40 से 46 ओवर के बीच में 72 रन आए, जिसमें रिषभ पंत और श्रेयस अय्यर छा गए. पंत ने 16 गेंदों पर 4 छक्कों और 3 चौकों के बल पर 39 रन बनाए. तो वहीं श्रेयस अय्यर ने 32 गेंदों पर 53 रन की पारी खेली. इन तूफ़ानी पारियों के बल पर भारत ने 5 विकेट पर 387 रन का स्कोर किया और वेस्टइंडीज़ के आगे 388 रन का मुश्किल टार्गेट सेट किया.

    लक्ष्य बड़ा था इसलिए कैरिबियाई टीम ने भी अपनी शुरूआत को धाकड़ अंदाज़ में सामने रखा.और तेज़ी से रन बनाए.टीम ने 10 ओवर में 56 रन बनाए. इस बनती हुई पार्टनरशिप को तोड़ा शार्दुल ठाकुर ने जिन्होंने इविन लुईस को डीप स्कवेयर लेग पर 30 के स्कोर पर श्रेयस अय्यर के हाथों कैच करवाया.

    भारत के लिए बड़ी सफलता पिछले मैच के शतकवीर शिमरॉन हेटमायर की विकेट के रूप में आई, जो इस बार 4 पर रन आउट हो गए. इन दो झटकों से वेस्टइंडीज़ संभला भी नहीं था कि टीम को रोस्टन चेस के रूप में तीसरा झटका लग गया, जिन्हें 4 पर रविंद्र जडेजा ने बोल्ड किया. लेकिन शाई होप और निकोलस पूरन की जोड़ी टिक गई, दोनों ने अर्धशतक लगाए, लेकिन 30वें ओवर में खेल ने एक बार फिर करवट ली, मोहमम्मद शमी ने पहले 75 पर निकोलस पूरन को तो शून्य पर कीरोन पोलार्ड का विकेट निकाल कैरिबियाई टीम के लिए मुश्किलें बढ़ा दी.

    33वें ओवर में कुलदीप यादव की हैट-ट्रिक ने वेस्टइंडीज़ को सरेंडर करने पर मजबूर कर दिया. कुलदीप ने शाई होप को 78, जेसन होल्डर को 11 और अल्ज़ारी जोसेफ को शून्य पर आउट कर भारत को जीत की ओर बढ़ा दिया. कैरेबियाई टीम 43.3 ओवर में 280 रन पर सिमट गई और टीम इंडिया ने मैच को 107 रन से जीत लिया.

  • मध्य प्रदेश के आगर मालवा ज़िले में सघन मिशन इंद्रधनुष 2.0 के तहत लक्ष्य से करीब 7 फ़ीसदी अधिक महिलाओं और बच्चों का टीकाकरण

     

     

  • अभी इन बलात्कारियों और हत्यारों के पास कानून के तहत एक और रास्ता है, वो है उपचारात्मक याचिका, जिसे हम क्यूरेटिव पिटीशन करते है. क्या है ये क्यूरेटिव पीटिशन और कब हुई इसकी शुरुआत...

    सबसे पहले हम आपको बता दें कि क्या है क्यूरेटिव पिटीशन और कब इसका इस्तेमाल किया जा सकता है. क्यूरेटिव पिटीशन तब दाखिल की जाती है, जब किसी मुजरिम की राष्ट्रपति के पास भेजी गई दया याचिका और सुप्रीम कोर्ट में पुनर्विचार याचिका खारिज कर दी जाती है. ऐसे में क्यूरेटिव पिटीशन उस मुजरिम के पास मौजूद अंतिम मौका होता है, जिसके ज़रिए वह अपने लिए सुनिश्चित की गई सज़ा में नरमी की गुहार लगा सकता है.

    क्यूरेटिव पिटीशन किसी भी मामले में अभियोग की अंतिम कड़ी होता है, इसमें फैसला आने के बाद मुजरिम के लिए आगे के सभी रास्ते बंद हो जाते हैं. आमतौर पर राष्ट्रपति द्वारा दया याचिका खारिज करने के बाद कोई भी मामला खत्म हो जाता है, लेकिन 1993 के बॉम्बे सीरियल ब्लास्ट मामले में दोषी याकूब अब्दुल रज़्ज़ाक मेमन के मामले में ये अपवाद हुआ और राष्ट्रपति द्वारा दया याचिका खारिज करने के बाद भी सुप्रीम कोर्ट ने क्यूरेटिव पिटीशन पर सुनवाई करने की मांग स्वीकार की थी.

    क्यूरेटिव पिटीशन की शुरुआत कब हुई ये हम आपको बताते है. क्यूरेटिव पिटीशन की अवधारणा साल 2002 में रूपा अशोक हुरा बनाम अशोक हुरा और अन्य मामले की सुनवाई के दौरान हुई. बहस के दौरान जब ये पूछा गया कि सुप्रीम कोर्ट द्वारा दोषी ठहराए जाने के बाद भी क्या किसी दोषी को राहत मिल सकती है. नियम के मुताबिक ऐसे मामलों में पीड़ित व्यक्ति रिव्यू पिटीशन डाल सकता है लेकिन सवाल ये पूछा गया कि अगर रिव्यू पिटीशन भी खारिज कर दिया जाता है तो क्या किया जाए. तब सुप्रीम कोर्ट अपने ही द्वारा दिए गए न्याय के आदेश को फिर से उसे दुरुस्त करने लिए क्यूरेटिव पिटीशन की धारणा लेकर सामने आई.

    क्यूरेटिव पिटीशन के तहत सुप्रीम कोर्ट अपने ही फैसलों पर पुनर्विचार करने के लिए तैयार हो गई. वास्तव में Curative Petition शब्द का जन्म ही Cure शब्द से है, जिसका मतलब होता है उपचार. क्यूरेटिव पिटीशन में ये बताना ज़रूरी होता है कि आख़िर वो किस आधार पर सुप्रीम कोर्ट के फैसले को चुनौती कर रहा है.

    क्यूरेटिव पिटीशन किसी सीनियर वकील द्वारा सर्टिफाइड होना ज़रूरी होता है, जिसके बाद इस पिटीशन को सुप्रीम कोर्ट के तीन सीनियर मोस्ट जजों और जिन जजों ने फैसला सुनाया था, उनके पास भी भेजा जाना ज़रूरी होता है. अगर इस बेंच के ज़्यादातर जज इस बात से इत्तेफाक़ रखते हैं कि मामले की दोबारा सुनवाई होनी चाहिए तब क्यूरेटिव पिटीशन को वापस उन्हीं जजों के पास भेज दिया जाता है.

    नीरज सिंह, वरिष्ठ संवाददाता

  •  इससे पहले सुप्रीम कोर्ट ने भी निर्भया मामले में हत्या के दोषी अक्षय की पुनर्विचार याचिका को खारिज करते हुए फांसी की सजा को बरकरार रखा है। हालांकि अक्षय के वकील एपी सिंह ने सुनवाई के दौरान केस की जांच और पीड़ित के बयानों पर सवाल उठाए। लेकिन अदालत ने कहा कि दलीलों में कुछ नई बात नहीं है। उधर निर्भया की मां आशा देवी ने फैसले पर खुशी जताई। 

    वहीं निर्भया गैंगरेप के चारों दोषियों (विनय, अक्षय, मुकेश और पवन) के खिलाफ डेथ वारंट जारी करने के लिए निर्भया की मां की याचिका पर दिल्ली की पटियाला हाउस कोर्ट में आज सुनवाई होगी । शुक्रवार को इस याचिका पर हुई सुनवाई के दौरान कोर्ट ने कहा था कि सुप्रीम कोर्ट का फैसला आने के बाद ही डेथ वारंट पर विचार किया जा सकेगा। 
     

  • बजट पूर्व चर्चा के सिलसिले को आगे बढ़ाने हुए आज वित्त मंत्री निमला सीतारमण राज्यों के वित मंत्रियों के साथ बैठक कर रही हैं। सुबह 10 बजे से राज्यों के साथ बजट से जुड़ी सिफारिशों पर चर्चा हुई। वित्त मंत्री दोपहर बाद जीएसटी परिषद की 38वीं बैठक की अध्यक्षता करेंगी। बैठक में इस बात पर चर्चा होगी कि  जीएसटी कलेशन को कैसे बढ़ावा दिया जाए और राज्य सरकारें जीएसटी की चोरी रोकने के लिए क्या कदम उठा सकती हैं। 
     

  • लिंडसे होयल ने सबसे पहले शपथ ली और वे हॉउस ऑफ कामन्स के अधिकारिक रूप से स्पीकर बन गए। सांसदों ने मंगलवार को इस पद के दोबारा चुना था। सर लिंडसे ने कहा कि उनका कार्यालय सबके लिए खुला रहेगा। परंपरा के अनुसार सबसे लंबे समय से रहे  सांसद पीटर बोटमले को दूसरे नम्बर पर शपथ दिलाई गई उन्होंने लेबर पार्टी के अपदस्थ सांसद डेनिस स्किनर का स्थान लिया जिन्हें तथाकथित रूप से फादर ऑफ द हाउस कहा जाता था। 

    बोटमले के बाद प्रधानमंत्री बोरिस जॉनसन ने शपथ ली। इसके बाद गृहमंत्री प्रीति पटेल, विदेश मंत्री डोमेनिक राब, लोर्ड चांसलर रोबर्ट  बकलैंड और कॉमन्स के नेता जैकब रीसमोग ने शपथ ग्रहण किया। लेबर पार्टी के नेता जेरमी कोर्बिन शपथ लेने वाले लेबर पार्टी के पहले सदस्य रहे।

    पिछले हफ्ते हुए चुनाव भारी जीत के बाद संसद में पहली बार बोलते हुए ब्रिटेन के प्रधानमंत्री बोरिस जॉनसन ने कहा कि उनकी प्राथमिकता ब्रेक्जिट प्रक्रिया पूरा करना है। उन्होंने अन्य दलों के साथ समान व्यवहार बनाये रखने का वायदा किया। ब्रिटेन की जनता द्वारा जनमत संग्रह में ब्रेक्जिट का समर्थन करने के साढ़े तीन वर्ष से अधिक समय के बाद ब्रिटेन को अगले वर्ष 31 जनवरी को यूरोपीय संघ से अलग होना है।

  • पोप ने ऐलान किया है कि नाबालिगों के यौन शोषण से जुड़े मामलों में 'पॉन्टिफ़िकल सीक्रेसी' यानी 'पोप संबंधित मामलों की गोपनीयता' का नियम लागू नहीं होगा. चर्च का कहना है कि इस तरह के मामलों में पारदर्शिता लाने के मक़सद से यह क़दम उठाया गया है. इससे पहले चर्च में यौन शोषण के मामलों पर अक्सर पर्दा डाल दिया जाता था. चर्च का कहना था कि यह क़दम पीड़ितों की निजता और अभियुक्तों की प्रतिष्ठा की रक्षा के लिए उठाया जाता था.

    मंगलवार को जारी किए गए पोप संबंधित नए दस्तावेज़ों के अनुसार, अब जो लोग अपने साथ उत्पीड़न होने की शिकायत करते हैं या कहते हैं कि वो पीड़ित रहे हैं, उनपर ये पाबंदी नहीं रहेगी. फ़रवरी में हुए वेटिकन समिट में चर्च के धार्मिक नेताओं ने इससे जुड़े नियमों को ख़त्म करने की मांग की थी. उनका कहना था कि ये नियम ख़त्म करने से ऐसे मामलों में पारदर्शिता आएगी, साथ ही पुलिस और न्यायिक संस्थाएं चर्च से जानकारी ले सकेंगी, जिससे उनका काम आसान होगा।

  • राजस्थान की राजधानी जयपुर में 11 साल पहले हुए सीरियल बम धमाके करने वाले गुनहगारों को विशेष कोर्ट ने आज चार आरोपियों को दोषी करार दिया है। दोषी ठहराए गए आरोपियों का नाम सरवर आजमी, मोहम्मद सैफ, सैफ उर्फ सेफुर्रहमान और सलमान को दोषी करार दिया जबकि शहबाज को सभी आरोपों से दोषमुक्त करार दिया है। 13 मई, 2008 को जयपुर में हुए सीरियल ब्लास्ट में 70 से ज्यादा लोगों की मौत हुई थी और 170 से ज्यादा लोग घायल हुए थे।

    इस केस में 5 आरोपियों को राजस्थान एसओजी ने गिरफ्तार किया था. एक आरोपी को गत वर्ष दिल्ली पुलिस ने गिरफ्तार किया है, जबकि तीन अभी तक फरार हैं. सीरियल ब्लास्ट के मामले में जयपुर के माणक चौक और कोतवाली थाने में 4-4 एफआईआर दर्ज की गई थी

  • नागरिकता क़ानून को लेकर हुई सुनवाई में सुप्रीम कोर्ट ने नागरिकता कानून पर रोक लगाने से इंकार कर दिया है। अदालत ने केंद्र को नोटिस जारी कर जनवरी के दूसरे हफ्ते में जवाब देने का निर्देश दिया है। इस मामले पर अगली सुनवाई 22 जनवरी को होगी। दरअसल, नागरिकता संशोधन अधिनियम के खिलाफ टीएमसी सांसद महुआ मोइत्रा, ऑल असम स्टूडेंट्स यूनियन, असम गण परिषद, ऑल असम लॉयर्स एसोसिएशन, रिहाई मंच और अन्य की याचिका पर सुप्रीम कोर्ट ने आज सुनवाई की।

    इस मामले में अब तक 50 से ज़्यादा याचिका दायर की गयी। इन सभी याचिकाओं में नए कानून की वैधानिकता को चुनौती दी गई है और इस पर रोक लगाने की मांग की गई थी। 16 दिसंबर को महुआ मोइत्रा के वकील ने अदालत से जल्द सुनवाई की मांग की थी जिस पर प्रधान न्यायाधीश एस. ए. बोबडे की अध्यक्षता वाली पीठ ने कहा था वह अन्य लंबित याचिकाओं के साथ इन याचिकाओं पर 18 दिसंबर को सुनवाई करेगा।

    संसद के दोनों सदनों से पारित होने के बाद 12 दिसंबर को राष्ट्रपति की मंजूरी के साथ ही नागरिकता विधेयक ने क़ानून का रूप ले लिया था ।

  • झारखंड विधानसभा चुनाव के पांचवे और अंतिम चरण के चुनाव प्रचार का आज अंतिम दिन है। इस चरण में संथाल परगना के 16 निर्वाचन क्षेत्रों में बीस दिसम्‍बर को वोट डाले जायेंगे। विभिन्‍न पार्टियों के नेता चुनाव प्रचार में जुटे हैं। भाजपा के कार्यकारी अध्यक्ष जे पी नड्डा ऐज देवघर और दुमका में चुनावी रैली को संबोधित करेंगे वहीं काग्रेस नेता प्रियंका गांधी का झारखंड के बधरवा में चुनावी सभा को संबोधित करने का कार्यक्रम है। AJSU पार्टी अध्यक्ष सुदेश कुमार महतो भी राज्य में चुनावी रैली को संबोधित करेंगे। 

  • भारत और अमेरिका के बीच दूसरी टू-प्लस-टू मंत्री स्तरीय वार्ता आज से वाशिंगटन डीसी में होगी। रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह और विदेश मंत्री डॉ. एस. जयशंकर भारतीय शिष्टमंडल का नेतृत्व करेंगे। दोनों देशों के रक्षा मंत्री और विदेश मंत्री, विदेश नीति के व्यापक परिप्रेक्ष्य और भारत-अमरीका संबंधों में रक्षा तथा संरक्षा संबंधी मुद्दों पर चर्चा करेंगे। दोनों पक्ष विभिन्न क्षेत्रीय और वैश्विक मुद्दों पर भी विचार-विमर्श करेंगे।

    भारत और अमरीका के बीच टू-प्लस-टू मंत्रिस्तरीय वार्ता सितम्बर 2018 में शुरू हुई थी। इसका मकसद भारत-अमरीका के बीच रणनीतिक भागीदारी के लिए सकारात्मक और दूरदर्शी दृष्टिकोण उपलब्ध कराना तथा राजनयिक और सुरक्षा प्रयासों में तालमेल को प्रोत्साहन देना है।

    रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह ने न्यूयॉर्क में एशिया सोसायटी में भारत के महावाणिज्य दूतावास द्वारा आयोजित समारोह में भारतीय समुदाय को संबोधित किया। अपने संबोधन में राजनाथ सिंह ने दोनों देशों के मजबूत संबंधों के लिए उनका शुक्रिया अदा किया। 

  • भारत ने नागरिकता संशोधन कानून के मुद्दे पर पाकिस्‍तान की नेशनल असेम्‍बली में पारित प्रस्‍ताव को खारिज कर दिया है। विदेश मंत्रालय ने इसको पूरी तरह से भारत का आंतरिक मामला बताते हुए कहा है कि पाकिस्‍तान ने जानबूझकर इस कानून के उद्देश्‍यों को गलत ढंग से प्रस्‍तुत किया है। पाकिस्तान का प्रस्‍ताव वहां पर धार्मिक अल्‍पसंख्‍यकों के साथ दुर्व्‍यवहार और उत्‍पीड़न से ध्‍यान हटाने की एक नाकाम कोशिश है। पाकिस्‍तान में अल्‍पसंख्‍यकों की जनसांख्यिकी वहां के हालात को खुद बयां करती है। पाकिस्‍तान ने जानबूझकर नागरिक संशोधन कानून के उद्देश्‍यों को गलत ढंग से प्रस्‍तुत किया है। 

    नागरिक संशोधन कानून किसी भी भारतीय की नागरिकता नहीं छीनता है, चाहे वे किसी भी धर्म से जुड़े हों। यह हास्‍यास्‍पद है कि पाकिस्‍तान की नेशनल असेम्‍बली ने खुद ही धार्मिक अल्‍पसंख्‍यकों के खिलाफ भेदभाव वाला कानून पारित किया है. पाकिस्‍तान को दूसरे पर गलत आरोप लगाने की बजाय खुद गंभीरतापूर्वक आत्‍मनिरीक्षण करना चाहिए।

  • नागरिकता संशोधन अधिनियम के खिलाफ टीएमसी सांसद महुआ मोइत्रा, ऑल असम स्टूडेंट्स यूनियन, असम गण परिषद, ऑल असम लॉयर्स एसोसिएशन, रिहाई मंच व अन्य की याचिका पर सुप्रीम कोर्ट आज सुनवाई करेगा। इस मामले में अब तक 50 से ज़्यादा याचिका दायर हो चुकी हैं। इन सभी याचिकाओं में नए कानून की वैधानिकता को चुनौती दी गई है और इस पर रोक लगाने की मांग की गई है।

    16 दिसंबर को महुआ मोइत्रा के वकील ने अदालत से जल्द सुनवाई की मांग की थी जिस पर प्रधान न्यायाधीश एस. ए. बोबडे की अध्यक्षता वाली पीठ ने कहा था वह अन्य लंबित याचिकाओं के साथ इन याचिकाओं पर 18 दिसंबर को सुनवाई करेगा। संसद के दोनों सदनों से पारित होने के बाद 12 दिसंबर को राष्ट्रपति ने भी नागरिकता संशोधन विधेयक को मंजूरी दे दी थी।

  • इन-फॉर्म ऑस्ट्रेलियाई बल्लेबाज मार्नस लाबूशेन को भारत के खिलाफ तीन मैचों की सीरीज के लिए वनडे टीम में जगह मिली है। ऑस्ट्रेलियाई टीम अगले महीने तीन मैचों की वनडे सीरीज के लिए भारत दौरे पर आएगी, इसके लिए क्रिकेट ऑस्ट्रेलिया ने एरॉन फिंच की कप्तानी वाली 14 सदस्यीय टीम की घोषणा कर दी है। पिछले साल टेस्ट क्रिकेट में डेब्यू करने वाले लाबूशेन लगातार पिछले तीन टेस्ट मैचों में सेंचुरी जड़ चुके है। 25 वर्षीय लाबूशेन इसके अलावा क्वींसलैंड की ओर से घरेलू क्रिकेट में भी शानदार प्रदर्शन कर चुके हैं।

    चीफ सिलेक्टर ट्रेवर होन्स ने भरोसा जताया है कि लाबूशेन भारतीय पिचों पर शानदार प्रदर्शन करने के लिए पूरी तरह से तैयार हैं। तेज़ गेंदबाज़ सीन एबॉट को पांच साल बाद वनडे टीम में वापसी का मौका मिला है, गौरतलब है कि उन्होंने अपना एक मात्र वनडे अक्टूबर 2014 में पाकिस्तान के खिलाफ खेला था। वहीं एश्टन एगर को भी 18 महीने बाद वनडे टीम में शामिल किया गया है जबकि जोश हेजलवुड को भी टीम में वापसी का मौका मिला है। नए चेहरों को टी20 फॉरमैट में अच्छे प्रदर्शन का तोहफा मिला है। एश्टन टर्नर इंडियन कंडीशन में अच्छा प्रदर्शन कर चुके हैं।

    चीफ सिलेक्टर होन्स कहना है कि 'सफेद गेंद क्रिकेट के लिए उनकी टीम मजबूत है और उम्मीद हैं कि इससे अगले साल के अंत में ऑस्ट्रेलिया की मेजबानी में होने वाले टी20 विश्व कप के लिए कंगारु टीम मजबूती मिलेगी, इसके साथ 2023 में भारत में होने वाले आईसीसी विश्व कप के लिए भी वे तैयारी कर रहे हैं।' हांलाकि टीम में उस्मान ख्वाजा, शॉन मार्श, ग्लेन मैक्सवेल, मार्कस स्टॉयनिस और नाथन लायन को जगह नहीं मिली है। गौरतलब है कि विश्व कप में ऑस्ट्रेलियाई टीम अपना खिताब नहीं बचा सकी थी और सेमीफाइनल में इंग्लैंड से हारकर टूर्नामेंट से बाहर हो गई थी, जिसके बाद से टीम में बड़े बदलाव देखने को मिले हैं।

    भारत और ऑस्ट्रेलिया के बीच 14 जनवरी को मुंबई में पहला वनडे खेला जाएगा, दूसरा एकदिवसीय 17 जनवरी को राजकोट में जबकि तीसरा वनडे 19 जनवरी को बेंगलुरु में होंगा। 

  • वेस्टइंडीज के खिलाफ तीन मैचों की सीरीज का दूसरा मुकाबला टीम इंडिया बुधवार को विशाखापत्तनम में खेलेगी। पहला मैच चेन्नई में खेला गया था जिसमें कैरेबियाई टीम को आठ विकेट से जीत मिली थी। ऐसे में दूसरे मैच की अहमियत काफी बढ़ गई, खासतौर से विराट सेना के लिए ये मैच जीतना जरूरी है। इस मैच में कप्तान कोहली एक मजबूत टीम के साथ उतरना चाहेंगे, क्योंकि अगर कोहली यह मैच भी हार जाते हैं तो सीरीज उनके हाथ से निकल जाएगी। ऐसा माना जा रहा है कि विशाखापत्तनम की पिच पर भी रनों की बारिश हो सकती है।

    वेस्टइंडीज के बल्लेबाज खासकर हेटमायर और शे होप जबर्दस्त फॉर्म में हैं। वही भारत के तूफानी बल्लेबाज रोहित शर्मा, के एल राहुल और कप्तान कोहली को अपने बल्ले से कमाल करना होगा। भारतीय गेंदबाजों को भी अपनी गेंदबाज़ में पैनापन लाना होगा ताकि वो वेस्टइंडीज़ के बल्लेबाजों पर लगाम लगा सके।  पिछले साल टीम इंडिया विशाखापत्तनम के इस मैदान पर 321 रन बनाने के बावजूद जीत हासिल नहीं कर सकी थी, वेस्टइंडीज ने ये मैच टाई करा लिया था। भारत के लिए चुनौती है इस मैच को जीत सीरीज में बने रहना है। वही बेहतरीन बल्लेबाजी के दम पर विंडीज ने 1-0 की बढ़त ले ली है और अब उसकी नजरें सीरीज जीतने पर हैं। 

    इस मैदान पर होने वाला टीम इंडिया का यह 9वां मुकाबला है। इससे पहले भारत ने यहां आठ मैच खेले और उसमें एक बात समान रही जिसके अनुसार वाइजैग का पुराना इतिहास देखें तो यहां भारत अगर टॉस हार जाता है तो मैच भी हाथ से निकल जाता है। यहां टीम इंडिया जब-जब टॉस जीती तो मैच कभी नहीं हारी, वहीं एक बार टॉस गंवाया था तो मैच भी हाथ से निकल गया था। टीम इंडिया इस मैदान पर 8 इंटरनेशनल वनडे खेल चुकी हैं। उसने इसमें से 6 मैचों में जीत दर्ज की जबकि एक मैच में हार का सामना करना पड़ा। उसका एक मैच टाई रहा था जो पिछले साल वेस्टइंडीज के साथ हुआ था।

    भारत और वेस्टइंडीज के बीच इस मैदान पर तीन मैच खेले गए, इनमें से दोनों टीमों ने एक-एक मैच जीते जबकि एक मैच टाई रहा था। लेकिन अब भारत के लिए ये मैच करो या मरो का मुकाबला होगा और जीत से कम कुछ नहीं चलेगा। 

  • यूएस हाउस की समिति ने अमेरिका के राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप पर महाभियोग की बहस के नियमों को निर्धारित किया है। सदन में आज महाभियोग पर मतदान होगा। ट्रंप पर आरोप है कि उन्‍होंने अपने पद का दुरुपयोग करते हुए दो डेमोक्रेट्स के खिलाफ जांच शुरू करने का यूक्रेन पर दबाव डाला था। ट्रंप पर एक आरोप है कि उन्‍होंने 2020 के अमेरिकी राष्‍ट्रपति चुनाव में अपने प्रतिद्वंद्वी जो बिडेन के खिलाफ जांच शुरू कराने को यूक्रेन पर दबाव डालने के लिए अपनी शक्तियों का गलत इस्‍तेमाल किया। ट्रंप ने डेमोक्रेट पर तख्तापलट की कोशिश का आरोप लगाया है। 

  • सेंट्रल बोर्ड ऑफ सेकंडरी एजुकेशन ने दसवीं और बारहवीं की परीक्षा तिथि की घोषणा कर दी है। छात्र परीक्षा की तिथियां सीबीएसई की आधिकारिक वेबसाइट cbse.nic.in पर देख सकते हैं। ऑफिशयल डेटशीट के मुताबिक दसवीं कक्षा की परीक्षाएं 15 फरवरी से शुरू हो रही है 15 फरवरी को दसवीं कक्षा के वोकेशनल विषयों का एग्जाम है। कोर विषयों की पहली परीक्षा 26 फरवरी को इंगलिश विषय की होगी। कोर विषय का अंतिम पेपर 20 मार्च को होगा। इसी तरह बारहवीं कक्षा की परीक्षाएं भी 15 फरवरी से शुरू हो रही हैं। बारहवीं का पहला पेपर भी वोकेशनल विषयों का है वहीं कोर विषय का पहला पेपर 27 फरवरी को आयोजित होगा जो इंग्लिश विषय का है। बारहवीं कक्षा का अंतिम पेपर 30 मार्च को आयोजित होगा जो सोशलॉजी का है। सीबीएसई बोर्ड 2020 परीक्षा का रिज़ल्ट मई के तीसरे हफ्ते में जारी होने की उम्मीद है।

  • भारत की सलामी बल्लेबाज स्मृति मंधाना को ICC की वर्ष की वनडे और टी-20 दोनों टीमों में स्थान मिला है। मंधाना के साथ साल की वनडे टीम में झूलन गोस्वामी, पूनम यादव और शिखा पांडे हैं और ऑलराउंडर दीप्ति शर्मा हैं और बाएं हाथ की स्पिनर राधा यादव शामिल हैं। 23 साल की मंधाना ने भारत के लिए 51 वनडे और 66 टी-20 मैच खेले हैं। इसके अलावा वह दो टेस्ट मैच भी खेल चुकी हैं। मंधाना ने टी-20 और वनडे  में कुल मिलाकर 3476 रन बनाए हैं।

    इस बार ICC अवॉर्ड में ऑस्ट्रेलियाई खिलाड़ियों का वर्चस्व देखने को मिला। श्रीलंका के खिलाफ रिकॉर्ड तोड़ 148 रनों की पारी खेलने वाली ऑस्ट्रेलिया की एलिसा हीली वर्ष की टी-20 क्रिकेटर चुनी गई। साल की वनडे क्रिकेटर का सम्मान ऑस्ट्रेलिया के एलिस पेरी को मिला है। पेरी ने 73.50 की औसत से 441 रन बनाए और 13.52 की औसत से 21 विकेट चटकाए। सभी प्रारूपों में क्रिकेटर ऑफ द ईयर का अवॉर्ड हासिल करने वाली पेरी को रशेल हेहोई-फ्लिंट पुरस्कार के लिए चुना गया. 29 साल की पेरी के लिए तीनों फॉर्मट में यह वर्ष शानदार रहा। उन्होंने महिला एशेज टेस्ट में शतक सहित कुल तीन शतक जड़े। वह T-20 इंटरनेशनल में 1,000 रन और 100 विकेट पूरे करने वाले पहले खिलाड़ी भी बनीं।

    ऑस्ट्रेलियाई मेग लैनिंग को वनडे और टी-20 दोनों का कप्तान चुना गया। जबकि थाईलैंड की चानिदा सुथिरयुंग को वर्ष की उभरती क्रिकेटर का पुरस्कार से सम्मानित किया गया। 26 साल की इस सीमर ने इस वर्ष आईसीसी महिला टी-20 विश्व कप क्वालिफायर में 12 विकेट चटकाए थे।
     

  • देश के कई हिस्सों में कड़ाके की ठंड शुरू हो गई है वहीं कई पहाड़ी इलाकों में  बर्फबारी की वजह से मैदानी इलाकों में सर्द हवाएं चल रही हैं।

    हिमाचल प्रदेश के ऊंचाई वाले इलाकों में बर्फबारी जारी है, कुल्लू के ये द़श्य देखिये यहां पर्यटक बर्फबारी का आनंद उठा रहे हैं, उत्तराखंड में भी ऊंचाई वाले इलाकों में बर्फ गिर रही है, बद्रीनाथ सहित चारों धामों में बर्फबारी जारी है।

    पहाड़ों में जहां एक ओर बर्फबारी के कारण पर्यटकों की आवाजाही बढ़ गई है, वहीं कई सड़कें अवरुद्ध होने से लोगों को परेशानी भी हो रही है, प्रशासन पूरी मुस्तैदी से सड़कों को खोल रहा है।

    इसके अलावा जम्मू-कश्मीर, पंजाब, हरियाणा और दिल्ली सहित उत्तरप्रदेश के भी कई हिस्सों में ठंड बढ़ गई है, दिल्ली में सोमवार को पिछले 16 साल का सबसे ठंडा दिन था । मंगलवार को भी सर्द हवाएं चलती रही जिससे लोग ठिठुरते रहे । 

    पारा  ठंड से बचने के लिये दिल्ली में नाइट शेल्टरों में भीड़ बढ़ गई है। उत्तर भारत के मैदानी इलाकों में कोहरा भी अब बढ़ने लगा है।
     

  • इस मिशन के तहत

    ---2024 तक प्रति हजार की जनसंख्या पर टावर घनत्व को मौजूदा 0.42 से बढ़ाकर 1.0 करने का लक्ष्य 

    ---30 लाख किलोमीटर इंक्रीमेंटल ऑप्टिकल फाइबर केबल बिछाया जायेगा 

    ---7 लाख करोड़ रूपये का निवेश करने का मिशन 

    ---ग्रामीण और दूर दराज के  क्षेत्रो में सस्ती ब्रॉडबैंड सुविधा उपलब्ध करनेपर फोकस

     

  • पाकिस्तान के पूर्व राष्ट्रपति परवेज मुशर्रफ को पाकिस्तान की एक विशेष अदालत ने देशद्रोह के मामले में मौत की सजा सुनाई है। वह पहले ऐसे सैन्य शासक हैं जिन्हें देश के अब तक के इतिहास में मौत की सजा सुनाई गई है।

    पेशावर उच्च न्यायालय के मुख्य न्यायाधीश वकार अहमद सेठ की अध्यक्षता में विशेष अदालत की तीन सदस्यीय पीठ ने 76 वर्षीय मुशर्रफ को लंबे समय से चल रहे देशद्रोह के मामले में मौत की सजा सुनाई। यह मामला 2007 में संविधान को निलंबित करने और देश में आपातकाल लगाने का है जो कि एक दंडनीय अपराध है और इस मामले में उनके खिलाफ 2014 में आरोप तय किए गए थे। अदालत के दो न्यायाधीशों ने मौत की सजा सुनाई जबकि एक अन्य न्यायाधीश की राय अलग थी। इसके ब्योरे अगले 48 घंटों में सुनाए जाएंगे। विशेष अदालत में न्यायमूर्ति सेठ, सिंध उच्च न्यायालय के न्यायाधीश नजर अकबर और लाहौर उच्च न्यायालय के न्यायाधीश शाहिद करीम शामिल हैं।

    पूर्व सैन्य प्रमुख मार्च 2016 में इलाज के लिए दुबई गए थे और सुरक्षा एवं सेहत का हवाला देकर तब से लौटे नहीं हैं। मुशर्रफ पर र्विशेष अदालत ने 19 नवंबर को फैसला सुरक्षित रख लिया था। मुशर्रफ ने 1999 से 2008 तक पाकिस्तान में शासन किया। पूर्व प्रधानमंत्री बेनजीर भुट्टो और लाल मस्जिद के धार्मिक गुरु की हत्या के मामले में उन्हें भगोड़ा घोषित किया जा चुका है, कुछ ही दिनों पहले अस्पताल से जारी एक वीडियो में मुशर्ऱफ ने कहा था कि देशद्रोह का केस बेबुनियाद है। मुशर्रफ कई बार कह चुके हैं कि वो अब देश वापस नहीं आएंगे, ऐसे में इस फैसले का भविष्य देखना दिलचस्प होगा।
     

  • झारखंड विधानसभा चुनावों के अंतिम चरण के लिए प्रचार का काम जारी है। बीजेपी कांग्रेस  जेएमएम और आजसू समेत तमाम राजनीतिक दलों के नेता प्रचार में लगे हैं। बीजेपी की ओर से मंगलवार को प्रचार की कमान संभाली खुद प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने। पीएम ने राज्य के साहिबगंज जिले  में एक चुनावी रैली को संबोधित किया और विधानसभा चुनावों के चार चरणों में निडर होकर मतदान करने के लिए  झारखंड की जनता की तारीफ की । पीएम ने कहा कि बीजेपी की हवा देखकर विरोधियों की नींद उड़ी हुई है।

    पीएम ने कहा कि आदिवासियों, पिछड़ों और दलितों को डराने का काम आज भी कांग्रेस, JMM और RJD वाले पहले की तरह ही कर रहे हैं। उन्होंने जनजातीय समाज और आदिवासियों को भरोसा दिया कि उनके साथियों को आश्वस्त करता हूं, आपके जल, जंगल और ज़मीन पर कोई आंच नहीं आएगी। 

    प्रधानमंत्री ने स्थानीय स्वतंत्रता संग्राम सेनानी सिद्धो-कान्‍हो और चांद भैरव की मूर्ति पर फूल चढाकर श्रद्धांजलि दी। 

    बाकी दल भी जोर शोर से प्रचार में लगे  हैं। जेएमएम कांग्रेस और आजसू के साथ ही बाबू लाल मरांडी की पार्टी भी प्रचार में लगी है।

    झारखंड में  पांच चरणों में मतदान हो रहा है। चार चरण का मतदान संपन्न होने के बाद  बीस दिसंबर को पांचवें तथा अंतिम चरण में 16 सीटों पर मतदान होगा। मतगणना 23 दिसंबर को होगी।

  • संशोधित नागरिकता कानून के खिलाफ विरोध प्रदर्शनों के मद्देनजर 11 दिसम्बर से गुवाहाटी में लगा कर्फ्यू मंगलवार को हटा लिया गया। शहर में दुकानें और व्यवसायिक प्रतिष्ठान खुले रहे। बस, कार और दोपहिया वाहन सड़कों पर नजर आये। डिब्रूगढ़ में मंगलवार को सुबह छह बजे से 14 घंटे तक कर्फ्यू में ढील दी गई। बीते दिनों हुए प्रदर्शन के बाद अब पूरे राज्य में हालात सामान्य है।

    असम में हिंसक प्रदर्शनों के बाद ब्राडबैंड सेवाएं बंद कर दी थी जिन्हे मंगलवार सुबह से पूरे राज्य में फिर से शुरू कर दिया गया। हालांकि गुवाहाटी उच्च न्यायालय ने असम सरकार को मंगलवार दोपहर तीन बजे से मोबाईल इंटरनेट सेवाएं भी बहाल करने पर विचार करने का निर्देश दिया। जनहित याचिकाओं पर दिये अपने आदेश में हाईकोर्ट ने राज्य सरकार को इंटरनेट सेवाएं बहाल करने से पहले राज्य की स्थिति का आंकल करने को बी कहा है। अदालत ने मामले में अगली सुनवाई 19 दिसंबर तय की। इसबीच कर्फ्यू में ढील देने के बाद लोगों ने राहत की सांस ली है और राज्य के आम लोग प्रदर्शनकारियों से शांतिपूर्ण प्रदर्शन की अपील कर रहे है।

    इस बीच लगातार सामान्य हो रहे असम के हालात के बाद राज्य में चलने वाली ज्यादातर ट्रेन सेवाएं सामान्य रुप से चल रही हैं।

    प्रशासन ने पर्यटकों को पूरी सुरक्षा का भरोसा दिया है। हिंसक प्रदर्शन के बाद अभी तक 136 मामले दर्ज किये गये है और 190 लोगों को गिरफ्तार किया गया है। वहीं पश्चिम बंगाल में मंगलवार को पांचवे दिन भी प्रदर्शन जारी रहा और प्रदर्शनकारियों ने राज्य के कई हिस्सों में सड़क और रेल की पटरियां जाम कर दीं। बात मेघालय की करें तो शिलॉन्ग में मंगलवार को कर्फ्यू में 13 घंटे की ढील दी गई। राज्य में मोबाइल संदेश सेवाओं पर अब भी रोक है। राज्य में किसी अप्रिय घटना की कोई खबर नहीं है।

  • संशोधित नागरिकता कानून के खिलाफ देश के कुछ हिस्सों में हुए छात्रों के विरोध प्रदर्शन के मामले में मंगलवार को सर्वोच्च न्यायलय में सुनवाई हुई। प्रदर्शन कर रहे लोगों पर पुलिस कार्रवाई के खिलाफ याचिकाओं पर सुनवाई करते हुए देश की सर्वोच्च अदालत ने इस मामले में दखल देने से इंकार किया और याचिकाकर्ताओं से कहा कि उन्हें राहत के लिये पहले उच्च न्यायालय जाना चाहिए।

    प्रधान न्यायाधीश एस. ए. बोबडे की अगुवाई वाली पीठ ने अपनी टिप्पणी में कहा, हम तथ्य जानने में समय बर्बाद नहीं करना चाहते, आपको पहले निचली अदालत में जाना चाहिए। हम इस मामले में पक्षपाती नहीं हैं। लेकिन जब कोई कानून तोड़ता है तो पुलिस क्या करेगी? हम पुलिस को केस दर्ज करने से कैसे रोक सकते हैं? नागरिकता कानून के खिलाफ प्रदर्शन में जिन छात्रों  को चोटें आईं हैं उन्हें हाईकोर्ट जाना चाहिए।  आप हमसे ट्रायल कोर्ट की तरह काम करने की अपेक्षा न करें। 
      
    इस दौरान सॉलिसिटर जनरल तुषार मेहता ने सरकार का पक्ष रखते हुए कोर्ट को बताया - किसी छात्र को गिरफ्तार नहीं किया गया है और कोई जेल में नहीं है। हिंसा के दौरान 31 पुलिसकर्मी घायल हुए हैं। 20 गाड़ियों को आग लगाई गई। घालय छात्रों को पुलिस अस्पताल ले गयी थी। दो छात्रों को गोली लगने की खबर भी गलत है।

  • संशोधित नागरिकता कानून के खिलाफ देश के कुछ हिस्सों में जारी विरोध प्रदर्शनों के बीच प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने देश को एक बार फिर भरोसा दिलाया है कि नया  कानून ना तो किसी भारतीय के अधिकार लेता है, ना ही उसे किसी भी तरह नुकसान पहुंचाता है। पीएम ने  देश के मुसलमानों को भरोसा दिलाया कि उनके हित पूरी तरह सुरक्षित हैं।

    झाऱखंड में एक चुनावी सभा को संबोधित करते हुए पीएम मोदी ने इस मामले में कांग्रेस पर देश में भ्रम फैलाने और  युवाओं को गुमराह करने का आरोप लगाया और चुनौती दी कि वे खुलकर स्वीकार करें को सभी पाकिस्तानियों को भारतीय नागरिकता देने के लिए तैयार हैं।

    केंद्रीय गृहमंत्री अमित शाह ने भी देश और दिल्ली के लोगों से अपील की है कि वो विपक्ष के बहकावे में न आएं।

    इस बीच संशोधित नागरिकता कानून के खिलाफ देश के कुछ हिस्सों में हुए छात्रों के विरोध प्रदर्शन के मामले में मंगलवार को सर्वोच्च न्यायलय में सुनवाई हुई। प्रदर्शन कर रहे लोगों पर पुलिस कार्रवाई के खिलाफ याचिकाओं पर सुनवाई करते हुए देश की सर्वोच्च अदालत ने इस मामले में दखल देने से इंकार किया और याचिकाकर्ताओं से कहा कि उन्हें राहत के लिये पहले उच्च न्यायालय जाना चाहिए।

    प्रधान न्यायाधीश एस. ए. बोबडे की अगुवाई वाली पीठ ने अपनी टिप्पणी में कहा, हम तथ्य जानने में समय बर्बाद नहीं करना चाहते, आपको पहले निचली अदालत में जाना चाहिए। हम इस मामले में पक्षपाती नहीं हैं। लेकिन जब कोई कानून तोड़ता है तो पुलिस क्या करेगी? हम पुलिस को केस दर्ज करने से कैसे रोक सकते हैं? नागरिकता कानून के खिलाफ प्रदर्शन में जिन छात्रों  को चोटें आईं हैं उन्हें हाईकोर्ट जाना चाहिए।  आप हमसे ट्रायल कोर्ट की तरह काम करने की अपेक्षा न करें। 
     
    इस दौरान सॉलिसिटर जनरल तुषार मेहता ने सरकार का पक्ष रखते हुए कोर्ट को बताया - किसी छात्र को गिरफ्तार नहीं किया गया है और कोई जेल में नहीं है। हिंसा के दौरान 31 पुलिसकर्मी घायल हुए हैं। 20 गाड़ियों को आग लगाई गई। घालय छात्रों को पुलिस अस्पताल ले गयी थी। दो छात्रों को गोली लगने की खबर भी गलत है।

    उधर दिल्ली के जामिया मिल्लिया इस्लामिया विश्वविद्यालय के पास हुई हिंसा में कथित 10 लोगों को गिरफ्तार किया गया है। पुलिस के मुताबिक आरोपियों को सोमवार की रात गिरफ्तार किया गया। आरोपियों की पहचान रविवार को जामिया प्रदर्शन के दौरान लिए गए वीडियो के जरिए की गई। पुलिस उनसे पूछताछ कर रही है और हिंसा भड़काने में शामिल अन्य आरोपियों की भी पहचान करने की कोशिश कर रही है। 

    दिल्ली पुलिस ने जामिया में प्रदर्शन के दौरान का एक वीडियो भी जारी किया है। ये वीडियो 3 मिनट 51 सेकंड का है। इसमें देखा जा सकता है कि 15 दिसंबर की रात दिल्ली पुलिस जामिया यूनिवर्सिटी के बाहर प्रदर्शनकारियों से शांति बनाए रखने की अपील कर रही है। लेकिन उस अपील का कोई असर होता नहीं दिख रहा है। पुलिस ने इस घटना को साजिश करार दिया है।

    इस बीच देश के कई हिस्सों में संशोधित नागरिकता कानून के खिलाफ प्रदर्शन जारी है। दिल्ली के जामिया में छात्रों ने शांतिपूर्ण प्रदर्शन किया। वहीं सीलमपुर इलाके में विरोध-प्रदर्शन के दौरान प्रदर्शनकारियों ने पुलिस के साथ संघर्ष किया, उन पर पथराव किया और कई बसों में तोड़फोड़ की। प्रदर्शनकारियों पर पुलिस ने लाठीचार्ज किया और आंसू गैस के गोले छोड़े। लखनऊ के शिया डिग्री कॉलेज में भी छात्रों ने विरोध प्रदर्शन करने का प्रयास किया लेकिन पुलिस प्रशासन ने इसे विफल कर दिया। वहीं मऊ जिले में सोमवार की रात भड़की हिंसा के मामले में अब तक 19 लोगों को गिरफ्तार किया गया है। जिले में हालात पूरी तरह से सामान्य है। उधर पश्चिम बंगाल में ममता बनर्जी ने एक विरोध रैली का नेतृत्व किया।
     

  • राष्ट्रीय स्वास्थ्य एवं परिवार कल्याण संस्थान, नई दिल्ली में केंद्रीय स्वास्थ्य सेवा के नव नियुक्त चिकित्साधिकारियों के लिए आधारभूत प्रशिक्षण कार्यक्रम का शुभारंभ किया गया। कार्यशाला का उद्घाटन स्वास्थ्य एवं परिवार कल्याण मंत्रालय के  स्वास्थ्य सचिव प्रीति सूदन ने किया। छह सप्ताह तक चलने वाले इस प्रशिक्षण कार्यक्रम में लगभग 85 नव नियुक्त मेडिकल ऑफिसर प्रतिभागी के रूप में शामिल हुए।

    कार्यक्रम की मुख्य अतिथि प्रीति सूदन ने चिकित्सक के व्यवसाय को अत्यंत महत्वपूर्ण बताते हुए कहा कि एक डॉक्टर को संवेदनशील होना चाहिए और अपने मरीजों से उसे इंसानियत से भरा हुआ व्यवहार करना चाहिए। उन्होंने कहा कि किसी भी रोगी के उपचार में 50 प्रतिशत दवाइयाँ काम करती हैं जबकि मरीज में 50 प्रतिशत सुधार मात्र डॉक्टर के आत्मीय व्यवहार से होता है।

  • इस मॉ़डल के दो विमानों के गंभीर रूप से दुर्घटनाग्रस्त होने के बावजूद 9 महीने तक इसका उत्पादन जारी था। बोइंग ने उम्मीद जताई थी कि इस साल के अंत तक विमान फिर से उड़ान भरने लगेगा लेकिन अमेरिकी विमान नियामक ने साफ कर दिया कि इस विमान को उड़ान भरने के लिए इतनी जल्द प्रमाणित नहीं किया जाएगा।

    इंडोनेशिया और इथियोपिया में दो 737 मैक्स विमानों के दुर्घटनाग्रस्त होने से 300 से ज्यादा लोगों की मौत हो गई। 

     

  • पाकिस्तान के पूर्व सैन्य तानाशाह परवेज मुशर्रफ को राजद्रोह के मामले में मौत की सजा सुनाई गई है। पाकिस्तान की विशेष अदालत ने पूर्व सैन्य शासक को दोषी करार देते हुए मौत की सजा सुनाई। पूर्व राष्ट्रपति के खिलाफ मामले की सुनवाई पेशावर उच्च न्यायालय के मुख्य न्यायाधीश वकार अहमद सेठ के नेतृत्व वाली विशेष अदालत की तीन सदस्यीय पीठ ने की है।

    3 नवंबर, 2007 को देश में इमरजेंसी लगाने के जुर्म में परवेज मुशर्रफ पर दिसंबर 2013 में देशद्रोह का मुकदमा दर्ज किया गया था। मुशर्रफ को 31 मार्च, 2014 को दोषी ठहराया गया था। इसके बाद आज सजा पर सुनवाई करते हुए उन्हें मौत की सजा सुनाई गई है।

  • झारखंड के चौथे चरण के लिये मतदान संम्पन्न होने के बाद पांचवे चरण के लिये प्रचार अभियान अपने चरम पर है। पांचवें चरण में 16 विधानसभा सीटों पर 20 दिसमंबर को वोटिग होगी। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी आज झारखंड के बरहेट में एक चुनावी रैली को संबोधित करेंगे।

    भाजपा, कांग्रेस समेत तमाम क्षेत्रिय दल अपने उम्मीदवारों के प्रचार में जुटे हैं।

    वहीं, झारखंड विधानसभा चुनाव का चौथा चरण सोमवार को समाप्त हो गया। 15 विधानसभा सीटों पर 62 फीसद से अधिक मतदाताओं ने मताधिकार का प्रयोग किया। सभी 15 सीटों पर मतदान कडी सुरक्षा के बीच सुबह 7 बजे शुरू हुआ। जमुआ, बगोदर, गिरिडीह, डुमरी और तुंडी विधानसभा सीटों पर मतदान दोपहर 3 बजे तक चला जबकि बाकी सीटों पर शाम 5 बजे तक मतदान हुआ।

    सभी विधानसभा सीटों पर मतदान पूरी तरह शांतिपूर्ण रहा और किसी भी प्रकार की कोई अप्रिय घटना की कोई खबर नहीं है।